Thursday, May 20, 2010

अगर पति पत्नी से ज्यादा खुश हैं तो तलाक की आशंका


यह बात अजीब लग सकती है, लेकिन महिलाओं को सावधान करने वाली है, यदि आपके पति आपसे ज्यादा खुश रहते हैं तो फिर आप पर तलाक की गाज गिर सकती है।
डीकिन विश्वविद्यालय के अर्थशास्त्रियों ने शोध के दौरान पाया कि यदि शादीशुदा जोडे़ के बीच खुशी का स्तर भिन्न है, खासकर यदि पति ज्यादा खुश होते हैं, तो तलाक की आशंका ज्यादा रहती है।
शोधकर्ताओं ने आस्ट्रेलिया, जर्मनी और ब्रिटेन के आंकड़ों पर जब गौर फरमाया तो पाया कि पति-पत्नी के बीच खुशी के स्तर में जितनी अधिक भिन्नता थी, चाहे वह शादी का पहला ही साल क्यों न हो, तलाक का खतरा उतना ही अधिक था।
अध्ययन के दौरान पाया गया है कि हालांकि महिलाएं पुरुषों से अधिक खुश थीं, लेकिन जिन दंपतियों में पुरुष ज्यादा खुश थे वहां शादियां टूट गईं।
मुख्य शोधकर्ता अर्थशास्त्री डा. काहित गुवेन ने कहा कि तलाक के बाद पति और पत्नी के बीच खुशी का अंतर जरूर कम हुआ, लेकिन उनके बीच उन दंपतियों की तुलना में खुशी का अंतर ज्यादा ही रहा जहां दोनों एक दूसरे से अलग नहीं हुए हैं।
उन्होंने कहा कि इसका मतलब उन्होंने शुरू में गलत निर्णय लिया और अलग होने के बाद उनमें खुशिया का अंतर बना रहा, गायब नहीं हुआ।
गुवेन ने कहा कि तलाक की खतरा आय और घर के कामकाज से भी जुड़ा होता है।

4 comments:

परमजीत सिँह बाली said...

अच्छी विचारणीय पोस्ट है।

डॉ टी एस दराल said...

शोध की क्या ज़रुरत थी । वहां तो तलाक वैसे ही बहुत हो जाते हैं ।

honesty project democracy said...

बेवजह चापलूसी या ख़ुशी का इजहार बेईमान आदमी ही कर सकता है ,इमानदार और कर्तव्यनिष्ट व्यक्ति तो आज वैसे ही दुखी है / हम चाहते हैं की इंसानियत की मुहीम में आप भी अपना योगदान दें / पढ़ें इस पोस्ट को और हर संभव अपनी तरफ से प्रयास करें http://honestyprojectrealdemocracy.blogspot.com/2010/05/blog-post_20.html

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi said...

पति ज्यादा खुश हो जाए और पत्नी की खुशी का ख्याल रखना ही बंद कर दे तो तलाक तो होगा ही।